Two Line Shayari

Two Line Shayari
Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram

Two Line Shayari (दो लाइन शायरी): Only two lines are all you need to express your inner feelings. The best collection of 2-line Sher O Shayari of 2023 in Hindi will touch your heart and touch your soul.

If you like them, make sure to share them on Twitter, Facebook, and other social media sites.

Two Line Shayari on life

ज़िन्दगी में हादसे होने भी ज़रूरी है ,
तभी सही रास्ते की पहचान होती है।

zindagee mein haadase hone bhee zarooree hai ,
tabhee sahee raaste kee pahachaan hotee hai.

मुसाफिर की बातों पर ऐतबार मत करना,
हस के टाल देना, बस प्यार मत करना।

musaaphir kee baaton par aitabaar mat karana,
has ke taal dena, bas pyaar mat karana.

Zaruri to nahi ki shayari sirf aashiq hi Karen,
Zindagi bhi kuch zakhm bemisaal de jati hai.

ज़रूरी तो नहीं कि शायरी सिर्फ़ आशिक़ ही करें,
ज़िंदगी भी कुछ ज़ख्म बेमिसाल दे जाती है।

हवा चुरा ले गई मेरी शायरी की किताब,
देखो आसमां पढ़ के रो रहा है बेहिसाब आज।

Hava chura le gai meri shayari ki kitaab,
Dekho aasma padh ke ro raha hai behisaab aaj.

हवा चुरा ले गई मेरी शायरी की किताब,
देखो आसमां पढ़ के रो रहा है बेहिसाब आज।

Mai to chahata hoon hamesha masoom bane rahna,
Ye jo duniya hai samajhdar kiye jati hai.

मै तो चाहता हूं हमेशा मासूम बने रहना,
ये जो दुनिया है समझदार किए जाती है।

Samjh rahe hain magar bolane ka yaara nahi
Jo ham se mil ke bichhad jaaye wo hamara nahi.

समझ रहे हैं मगर बोलने का यारा नही
जो हम से मिल के बिछड़ जाए वो हमारा नही

Bhar jayenge jakhm mere bhi tum jamane se jikr mat karna,
Main theek hoon tum dubara kabhi meri fikr mat karna.

भर जायेंगे जख्म मेरे भी तुम जमाने से जिक्र मत करना,
मै ठीक हूं तुम दुबारा कभी मेरी फिक्र मत करना।

bhar jaayenge jakhm mere bhee tum jamaane se jikr mat karana,
mai theek hoon tum dubaara kabhee meree phikr mat karana.

हम ही पत्थर के हो गये ये सोचके
कि ज़िंदगी तो फूल बनेगी नहीं !!!

ham hee patthar ke ho gaye ye sochake
ki zindagee to phool banegee nahin !!!

काश मैं अपनी ज़िन्दगी का लाडला होता ,
जीत मेरी ही होती ,चाहे कोई भी मामला होता।

kaash main apanee zindagee ka laadala hota ,
jeet meree hee hotee ,chaahe koee bhee maamala hota.

Two Line Shayari on Evening

तेरे आने की उम्मीद और भी तड़पाती है,
मेरी खिड़की पे जब शाम उतर आती है।

Tere aane kee ummeed aur bhee tadapaatee hai,
meree khidakee pe jab shaam utar aatee hai.

अभी तो आसमान से उतरे चाँद से बादल रोशन हो गए,
और उसी रोशनी में आपके नाम एक खूबूरत शाम हो गए।

Abhee to aasamaan se utare chaand se baadal roshan ho gae,
Aur usee roshanee mein aapake naam ek khooboorat shaam ho gae.

आँधी में भी दीये जला करते हैं,
कांटो में ही गुलाब खिला करते हैं,
खुश नसीब होती है वो शाम
जिसमें आप जैसे लोग मिला करते हैं।

Aandhee mein bhee deeye jala karate hain,
kaanto mein hee gulaab khila karate hain,
khush naseeb hotee hai vo shaam
jisamen aap jaise log mila karate hain.

हम क्या हैं वो सिर्फ हम जानते हैं,
लोग बस अंदाजा लगा सकते हैं।

Ham kya hain vo sirph ham jaanate hain,
log bas andaaja laga sakate hain.

शाम पड़ते ही किसी शख़्स की याद
कूचा-ए-जां में सदा करती है

@परवीन शाकिर

Shaam padate hee kisee shakhs kee yaad
koocha-e-jaan mein sada karatee hai

@Paraveen shaakir

पूछ लो बेशक परिन्दों की हसीं चेहकार से ,
तुम शफ़क़ की झील हो और शाम का मंज़र हूँ मैं..!!

Poochh lo beshak parindon kee haseen chehakaar se ,
Tum shafaq kee jheel ho aur shaam ka manzar hoon main..!!

मेरा झुकना और तेरा खुदा हो जाना,
यार अच्छा नहीं इतना बड़ा हो जाना..!!

Mera jhukana aur tera khuda ho jaana,
Yaar achchha nahin itana bada ho jaana..!!

एक तरसी हुई निगाहें इशारे में कह गई..!
दिल ले गए हो तुम बस जान रह गई..!

Ek tarasee huee nigaahen ishaare mein kah gaee!
dil le gae ho tum bas jaan rah gaee…!

शाम हुई…उनका ख्याल आ गया,
वही जिन्दगी का सवाल आ गया।

Shaam huee…unaka khyaal aa gaya,
Vahee jindagee ka savaal aa gaya.

Two Line Sher o Shayari

Kisi ek ki chahat bano har kisi ki tamanna nahi,
Jo maza us ek ke ishq me hai wo nasha kisi aur me nahi.

किसी एक की चाहत बनो हर किसी की तमन्ना नही,
जो मजा उस एक के इश्क में है वो नशा किसी और में नही..!

तू खास है मेरे लिए, आम नही
गहराई बहुत है रिश्ते में, बस कोई नाम नहीं।

Too khaas hai mere lie, aam nahee
Gaharaee bahut hai rishte mein, bas koee naam nahin.

ज़िंदगी में ऐसा Attitude बनाओ,
जो जैसा है, उसे उसी की भाषा में समझाओ..!!

Zindagee mein aisa attitudai banao,
Jo jaisa hai, use usee kee bhaasha mein samajhao.

यूँ शक ना किया करो मेरी दोस्ती पे
तुम्हारे बिना भी हम तुम्हारे ही रहते है।

Yoon shak na kiya karo meree dostee pe
Tumhaare bina bhee ham tumhaare hee rahate hai.

कोई अजनबी ख़ास हो रहा है,
लगता है मोहब्बतें एहसास हो रहा है…!!

Koee ajanabee khaas ho raha hai,
Lagata hai mohabbaten ehasaas ho raha hai.

यूं तो हर शाम उम्मीदों में गुज़र जाती है
आज कुछ बात है जो शाम पे रोना आया।

Yoon to har shaam ummeedon mein guzar jaatee hai
Aaj kuchh baat hai jo shaam pe rona aaya.

Deep Meaning two Line Shayari

ज़िन्दगी जीने के लिए ही मिली थी,
लोगो ने सोचने में ही गुज़ार दी।

Zindagee jeene ke lie hee milee thee,
Logo ne sochane mein hee guzaar dee.

न रूठने का डर न मनाने की कोशिश
दिल से उतरे हुए लोगों से शिकायतें कैसी।

Na roothane ka dar na manaane kee koshish
Dil se utare hue logon se shikaayaten kaisee.

औरों का बताया हुआ रस्ता नही चुनते
जो इश्क़ चुना करते हैं, दुनिया नही चुनते।

Auron ka bataaya hua rasta nahee chunate
Jo ishq chuna karate hain, duniya nahee chunate.

जब तक था दम में दम न दबे आसमाँ से हम,
जब दम निकल गया तो ज़मीं ने दबा लिया।

Jab tak tha dam mein dam na dabe aasamaan se ham,
Jab dam nikal gaya to zameen ne daba liya.

मेरी तन्हाई देखेंगे तो हैरत ही करेंगे लोग
मोहब्बत छोड़ देंगे या मोहब्बत ही करेंगे लोग।

Meree tanhaee dekhenge to hairat hee karenge log
Mohabbat chhod denge ya mohabbat hee karenge log.

बुराई अच्छाई में तौला जायेगा तुम्हे ,
तब खुद कि नजरो में खुद को गिरने मत देना।

Buraee achchhaee mein taula jaayega tumhe ,
tab khud ki najaro mein khud ko girane mat dena.

ज़िंदा रहने की अब ये तरकीब निकाली है,
ज़िंदा होने की खबर सब से छुपा ली है।

Zinda rahane kee ab ye tarakeeb nikaalee hai,
Zinda hone kee khabar sab se chhupa lee hai.

Beautiful 2 Line Shayari

गमों की मुझ पर कुछ ऐसी नजर हो गई,
जब भी हम हंसे ये आँखें नम हो गई !!

Gamon kee mujh par kuchh aisee najar ho gaee,
Jab bhee ham hanse ye aankhen nam ho gaee !!

कैसा अज़ीब रिवाज़ दुनिया का हो चला
खुश दिखना खुश होने से ज़रूरी हो गया।

Kaisa azeeb rivaaz duniya ka ho chala
Khush dikhana khush hone se zarooree ho gaya.

वो एक बात जिसे बोलने को मरते थे
वो एक बात हमें बोलनी नही आई।

Vo ek baat jise bolane ko marate the
Vo ek baat hamen bolanee nahee aaee.

मेरी शायरी का असर उनपे हो भी तो कैसे हो ?
कि मैं एहसास लिखता हूँ तो वो अल्फाज़ पढ़ते हैं।

Meree shaayaree ka asar unape ho bhee to kaise ho ?
Ki main ehasaas likhata hoon to vo alphaaz padhate hain.

मिला क्या हमें सारी उम्र मोहब्बत करके,
बस एक शायरी का हुनर एक रातों का जागना।

Mila kya hamen saaree umr mohabbat karake,
Bas ek shaayaree ka hunar ek raaton ka jaagana.

शेर-ओ-सुखन क्या कोई बच्चों का खेल है?
जल जातीं हैं जवानियाँ लफ़्ज़ों की आग में।

Sher-o-sukhan kya koee bachchon ka khel hai?
Jal jaateen hain javaaniyaan lafzon kee aag mein.

आइना भी भला कब किसी को सच बता पाया है,
जब भी देखो दायाँ तो बायां ही नज़र आया है।

Aaina bhee bhala kab kisee ko sach bata paaya hai,
Jab bhee dekho daayaan to baayaan hee nazar aaya hai.

दोनों हाथों से छुपा रखा है रुख्शारों को,
किस तरह भाप लिया, तुमने इरादा मेरा।

Donon haathon se chhupa rakha hai rukhshaaron ko,
Kis tarah bhaap liya, tumane iraada mera.

गमों की मुझ पर कुछ ऐसी नजर हो गई,
जब भी हम हंसे ये आँखें नम हो गई !!

Gamon kee mujh par kuchh aisee najar ho gaee,
Jab bhee ham hanse ye aankhen nam ho gaee.

Hindi 2 Line Shayari (दो लाइन शायरी)

तुम्हें कभी जुदा नहीं होने देंगे खुद से,
तुम देर से मिले इतना नुकसान ही काफ़ी है !

Tumhen kabhee juda nahin hone denge khud se,
Tum der se mile itana nukasaan hee kaafee hai…!

रोज रोज गिरकर भी मुकम्मल खड़ा हूँ
ऐ मुश्किलों देखो मै तुमसे कितना बड़ा हूँ..!

Roj roj girakar bhee mukammal khada hoon
Ai mushkilon dekho mai tumase kitana bada hoon..!

ज़िंदगी थोड़ी बेहतर होती अगर तुम ज़िंदगी से जाते ही नहीं,
थोड़ी ज़्यादा बेहतर होती अगर तुम ज़िंदगी में आते ही नहीं।

Zindagee thodee behatar hotee agar tum zindagee se jaate hee nahin,
Thodee zyaada behatar hotee agar tum zindagee mein aate hee nahin….।

कुछ शिकायतें बनी रहें तो बेहतर हैं
चाशनी में डूबे रिश्ते वफादार नही होते।

Kuchh shikaayaten banee rahen to behatar hain
Chaashanee mein doobe rishte vaphaadaar nahee hote.

हर कदम साथ चलने वाले हम कहीं खो गए,
इतने करीब थे हम और अब अजनबी हो गए।

Har kadam saath chalane vaale ham kaheen kho gae,
Itane kareeb the ham aur ab ajanabee ho gae.

मै लोगों से मुलाकातों के लम्हें याद रखता हूं
बातें भूल भी जाऊं पर लहजे याद रखता हूं।

Mai logon se mulaakaaton ke lamhen yaad rakhata hoon
Baaten bhool bhee jaoon par lahaje yaad rakhata hoon.

हम तुम्हे कभी खुदसे जुदा नही होने देंगे.. ❤️
तुम देर से मिले.. इतना नुकसान ही काफी है..😘

Ham tumhe kabhee khudase juda nahee hone denge.. ❤
Tum der se mile.. itana nukasaan hee kaaphee hai..😘

सुकून क्या है, मैं नहीं जानता,
शायद ये वो है,जो तुम्हारे पास आ के मिलता है…😊

Sukoon kya hai, main nahin jaanata,
Shaayad ye vo hai,jo tumhaare paas aa ke milata hai…😊

Two Line Shayari In Hindi English

काट कर गैरों की टांगे, खुद लगा लेते हैं लोग,
इस शहर में इस तरह भी कद बढ़ा लेते हैं लोग…

गहराई जख्म की किसी को दिखाता नही हूं,
माफ़ तो कर देता हूं मगर मैं भुलाता नही हूं..

Gaharaee jakhm kee kisee ko dikhaata nahee hoon,
Maaf to kar deta hoon magar main bhulaata nahee hoon..

तुम से बिछड़ के कुछ यूँ वक्त गुजारा,
कभी जिंदगी को तरसे कभी मौत को पुकारा।।

Tum se bichhad ke kuchh yoon vakt gujaara,
Kabhee jindagee ko tarase kabhee maut ko pukaara..

शाम तक सुबह की नज़रों से उतर जाते हैं,
इतने समझौतों पर जीते हैं कि मर जाते हैं..

Shaam tak subah kee nazaron se utar jaate hain,
Itane samajhauton par jeete hain ki mar jaate hain..

हमारे पीर मीर तकी मीर ने कहा था कभी…

मियां….. ये आशिकी इज्जत बिगाड़ देती है…

Hamaare peer meer takee meer ne kaha tha kabhee…

Miyaan….. ye aashikee ijjat bigaad detee hai…

मैं जो बहक कर तुम्हारा नाम ले बैठूं,…
सुनो..
मुस्कुरा कर तुम मुकर सकती हो ….

Main jo bahak kar tumhaara naam le baithoon,…
Suno..
Muskura kar tum mukar sakatee ho ….

नींदे उडा रख्खी है मेरी किसी ने……

ये कहकर की….

तुम मुझे अच्छे लगते हो…😘😘

Neende uda rakhkhee hai meree kisee ne……

Ye kahakar kee….

Tum mujhe achchhe lagate ho…😘😘

Short Hindi Shayari

माहौल गरम हो या हो बातों में चिंगारी
मै मसरूफ हूं अपने काम में, मुझे भाती नही ये दुनियादारी।

वो आ गए मिलने हमसे एक शाम तन्हाई मिटाने,
और हम समझ बैठे इसे अपनी दुआओं का असर।

क्या ही फर्क पड़ा है किसी को तुम्हारे नाराज़ होने से,
वक्त के साथ बदल जाओ, इतना बर्बाद होने से।

तुझ को मालूम भी है कितना तलबगार हू तेरा…
पूछ उन फ़रिश्तो से जो रोज़ लिखते हैं दुआएँ मेरा..

कभी लौट आएं तो पूछना नही देखना उन्हे गौर से
जिन्हें रास्ते में ख़बर हुई कि ये रास्ता कोई और है।

उतरने ही नहीं देती मुझ पर कोई आफत
मेरी माँ के दुआओ ने आसमान को रोक रखा है

यूं तो हर शाम उम्मीदों में गुजर जाती है,
आज कुछ बात है जो शाम पे रोना आया।।

Best Two Line Shayari (दो लाइन शायरी)

दरख़्त ऐ नीम हूं मेरे नाम से घबराहट तो होगी,
छांव ठंडी ही दूंगा बेशक पत्तों में कड़वाहट तो होगी.

उम्मीद तो यही करती हूँ मैं, तो वफ़ा हर पल करेगा
टूट कर बिखर जाऊ जब मैं, तो तू दुआ करेगा

हद से बढ जाए ताल्लुक तो गम मिलते हैं,
हम इसी वास्ते हर शख्स से कम मिलते हैं..

दुआ बहार की मांगी, तो इतने फूल खिले
कही भी जगह न मिली मेरे आशियाने को

जो गैर थे वो इसी बात पर हमारे हुए
कि हम से दोस्त बहुत से बे-खबर हमारे हुए।

न जाने कौन मेरे हक़ में दुआ पढ़ता है,
डूबता भी हूं तो समुन्दर उछाल देता है।

मैंने हर दुआ में यही माँगा,
उसकी हर दुआ कुबूल हो।

कोई कहता है मूरत में, कोई कहता है आसमान में रहता है,
और मुझ जाहिल को लगता था, खुदा हर इंसान में रहता है।

हवा चुरा ले गई मेरी शायरी की किताब,
देखो आसमां पढ़ के रो रहा है बेहिसाब आज।

दो लाइन हिंदी शायरी

सुबह होती रही शाम होती रही
उम्र यूँ ही तमाम होती रही।

माना की मरने वालों को भुला देते हैं सभी..!
मुझे जिंदा भूलकर तुमने तो कहावत ही बदल दी.!!

बेर-सबब बात बढ़ाने की जरूरत क्या है
हम खफा कब थे मनाने की जरूरत क्या है।

मोहब्बत पहली दूसरी या तीसरी नहीं होती..
मोहब्बत वो होती है.जिसके बाद मोहब्बत नहीं होती!

तेरी याद आती है तो दिन में कई बार रो लेते हैं हम,
तेरी तस्वीर को देख कर हर बार तुझे खो लेते हैं हम।

जिंदगी होगी तो कल फिर फिकर होगी तेरी,
अगर इसी रात हम चल बसे तो ख्याल रखना अपना..!

जब जब मेने तुम्हे सोचा है
मेने तुम्हे अपने करीब पाया है।।

सुलझा तो मैं लू तुम्हारी हर एक उलझनों को मैं
मगर सोचता हूं फिर दिन भर मैं करूंगा क्या?

Two Line Shayari In English (Two Line Love Shayari In Hindi)

खाली पन्नो की तरह दिन पलटते जा रहे हैं,
खबर नही की ये “आ रहे हैं” या “जा रहे हैं”..!

khaalee panno kee tarah din palatate ja rahe hain,
khabar nahee kee ye “aa rahe hain” ya “ja rahe hain”..!

मानता ही नहीं ये दिल तुम्हे भूलने को
मै हाथ जोड़ता हूं तो पांव पकड़ लेता है।।

Maanata hee nahin ye dil tumhe bhoolane ko
Mai haath jodata hoon to paanv pakad leta hai..

तेरी बातें ही सुनाने आए
दोस्त भी दिल ही दुखाने आए।

Teree baaten hee sunaane aae
Dost bhee dil hee dukhaane aae.

बिछड़ कर फिर मिलेंगे यकीन कितना था
ख्वाब ही था मगर हसीन कितना था।।

Bichhad kar phir milenge yakeen kitana tha
Khvaab hee tha magar haseen kitana tha..

इक आदत सी पड़ी है सब ठीक है कहने की,
इक आदत सी पड़ी है सब कुछ ही सहने की।

Ik aadat see padee hai sab theek hai kahane kee,
Ik aadat see padee hai sab kuchh hee sahane kee.

भर जायेंगे जख्म मेरे भी तुम जमाने से जिक्र मत करना,
मै ठीक हूं तुम दुबारा कभी मेरी फिक्र मत करना।

Bhar jaayenge jakhm mere bhee tum jamaane se jikr mat karana,
Mai theek hoon tum dubaara kabhee meree phikr mat karana.

कोई धून हो तो बता देना
बड़े अरसे से दिल को सुकून नहीं मिला है।

Koee dhoon ho to bata dena
Bade arase se dil ko sukoon nahin mila hai.

Two Line Shayari (Shayari Life Two Line)

हम ने दिल के दरवाज़े पर लिखा था अन्दर आना मना है,
इश्क़ ने आ के फ़रमाया, माफ़ कीजियेगा मैं अँधा हूँ.!

चलो माना दुनियाँ बहुत बुरी है,
तुम तो अच्छे बनो तुम्हे किसने रोका है!

सोचा था आज तेरे सिवा कुछ और सोचुँ अभी तक इस सोच में हुँ कि औरक्या सोचुँ.!

तलब ये के तुम मिल जाओ….
हसरत ये के उम्र भर के लिए!!

तुझे सब का ख्याल है पर मेरा नहीं ……
मुझे बस तेरा ख्याल है और किसी का नही …!!

हुए बदनाम मगर फिर भी न सुधर पाए हम !
फिर वही शायरी, फिर वही इश्क, फिर वही तुम !!

ना जाने उनका वक्त आज कहाँ गुजरता है !
जिनके लिए वक्त से भी ज्यादा कीमती थे हम !!

ये बात और है के तक़दीर लिपट के रोई वरना !
बाज़ू तो हमनें तुम्हे देख कर ही फैलाए थे !!

two line love shayari in hindi

क़ाफी अच्छा लगता है जब भी तू‍ हँसती है, क्योंकि तेरे एक smile में मेरी जान बसती है।

Qaaphee achchha lagata hai jab bhee too‍ hansatee hai, kyonki tere ek smilai mein meree jaan basatee hai.


देखी तेरी सूरत तो दिल फ़िदा हो गया, मिलोगी जब तुम अकेले में तो, जाने खुदा मेरा हाल क्या होगा।

Dekhee teree soorat to dil fida ho gaya, milogee jab tum akele mein to, jaane khuda mera haal kya hoga.


ख़्वाहिश ए ज़िंदगी बस इतनी सी है कि, साथ तुम्हारा हो और ज़िंदगी कभी ख़त्म ना हो।

Khvaahish e zindagee bas itanee see hai ki, saath tumhaara ho aur zindagee kabhee khatm na ho.


मेरी जिंदगी में खुशियां तेरे बहाने से हैं, आधी तुझे सताने से हैं आधी तुझे मनाने से हैं।

Meree jindagee mein khushiyaan tere bahaane se hain, aadhee tujhe sataane se hain aadhee tujhe manaane se hain.


मरना भी मुश्किल है जिस शख्श के वगैर, उस शख्स ने ख्वाबों में भी आना छोड़ दिया​।😑

Marana bhee mushkil hai jis shakhsh ke vagair, us shakhs ne khvaabon mein bhee aana chhod diya​.😑


बस यही एक जिझक है हाले दिल सुनाने में के तेरा भी ज़िक्र आयेगा इस फसाने में!!💗

Bas yahee ek jijhak hai haale dil sunaane mein ke tera bhee zikr aayega is phasaane mein!!💗


कोई अजनबी ख़ास हो रहा है……लगता है मोहब्बतें एहसास हो रहा है!!💘

Koee ajanabee khaas ho raha hai……lagata hai mohabbaten ehasaas ho raha hai!!💘


कैसे कह दू इश्क़ नहीं है तुमसे मेरे लिए इश्क़ का मतलब ही तुम हो!!!❤

Kaise kah doo ishq nahin hai tumase mere lie ishq ka matalab hee tum ho!!!❤

romantic two line shayari

जानते हो मोहब्बत किसे कहते है, किसी को दिल से चाहना, उसे हार जाना, और फिर खामोश हो जाना।😢

एहसास-ऐ-मोहब्बत के लिए बस इतना ही काफी है, तेरे बगैर भी हम तेरे ही रहते है।💝

मत खोलना मेरी किस्मत की किताबों को,
हर उस शख्स ने दिल दुखाया है, जिस पे नाज़ था!!

ज़माना दूरियों का मतलब नहीं जानता,
हमारे प्यार की वो ताक़त नहीं जानता.!

तेरे ना होने से बस इतनी सी कमी रहती है,
मै लाख मुस्कुराउ आखो मे नमी सी रहती है.!

सोचता हूँ कभी तेरे दिल मै उतर कर देख लूं ,
आखिर कौन है तेरे दिल मै जो मुझे बसने नही देता!

वो इस अंदाज़ में मुझसे मोहब्बत चाहती है,
मेरे ख्वाब में भी अपनी हुकूमत चाहती है.!!

ख़ुशी से बीते हर दिन, हर सुहानी रात हो
जिस जगह आपके कदम बड़े, वह खुशियों की बरसात हो

क्या दुआ करूँ ऐ खुदा में उसके लिए…
बस यही दुआ है की वो कभी किसी की दुआ का मोहताज न हो…

Alone two line shayari

सच कहा था किसी ने तन्हाई में जीना सीख लो,
मोहब्बत जितनी भी सच्ची हो साथ छोड़ ही जाती है !!

Sach kaha tha kisee ne tanhaee mein jeena seekh lo,
Mohabbat jitanee bhee sachchee ho saath chhod hee jaatee hai !!

युं मेरे साथ दफन दिले बेकरार हो !
छोटा सा एक मजार के अंदर मजार हो!!

Yun mere saath daphan dile bekaraar ho !
Yhhota sa ek majaar ke andar majaar ho!!

आज यकीन हो गया ‘साहब’, हमको उनकी वफाओं का !
वो मुझसे इश्क़ तो नहीं करती , फिक्र बहुत करती है !!

Aaj yakeen ho gaya saahab, hamako unakee vaphaon ka !
Vo mujhase ishq to nahin karatee , phikr bahut karatee hai !!

शौक़ नहीं है मुझे उदास रहने का,,
बस किसी की याद मुझे उदास कर देती है।

Shauq nahin hai mujhe udaas rahane ka,,
Bas kisee kee yaad mujhe udaas kar detee hai.

तुम बदले तो हम भी कहाँ पुराने से रहे,
तुम आने से रहे तो, हम भी बुलाने से रहे।

Tum badale to ham bhee kahaan puraane se rahe,
Tum aane se rahe to, ham bhee bulaane se rahe.

Two Line Shayari

अगर ना करता मैं गुनाह तुमसे मोहब्बत करने का,
इतना प्यारा सनम फिर कहाँ मिलता ये बताओ मुझे।

जाने क्या कशिश है उसकी मदहोश आँखों में,
नजरअंदाज जितना भी करो नजर उसपे ही पड़ती है।

चलता आ रहा था सिलसिला प्यार में बर्बाद होने का,
भीड़ देखकर हम भी शामिल हो गए साहब।

फांसला भी ज़रूरी है चिराग रोशन करते वक्त,
तजुर्बा यह आया हाथ जल जाने के बाद।

जुदा जबसे हुए है हम,
तेरे बिना खामोश रहता हूँ मैं।

मुझे सारी दुनिया में से सिर्फ वो पसंद है,
उसे मेरे अलावा सारी दुनिया पसंद है।

गुनाह ही किया है तो कोई सजा दे मुझे,
हर पल अब मुझसे जुदाई में तडपा नहीं जाता।

two line shayari on chand

चांद गवाह है मेरे प्यार का
वो चांद के सामने प्यार की बाते करते थे।

काश कोई ऐसी भी रात आए
एक चाँद आसमा में हो
और दूसरा हमारे करीब आ जाए।

ऐ काश हमारी क़िस्मत में ऐसी भी कोई शाम आ जाए,
एक चाँद फ़लक पर निकला हो एक छत पर आ जाए।

चाँद भी हैरान… दरिया भी परेशानी में है,
अक्स किस का है ये इतनी रौशनी पानी में है।

कितना हसीन चाँद सा चेहरा है,
उसपे शबाब का रंग गहरा है,
खुदा को यकीन न था वफ़ा पे,
तभी चाँद पे तारों का पहरा है।

चाहते तो हम भी उसे एक ज़माने से थे,
मगर चाँद कब इंसानों का हुआ है।

दिन में चैन नहीं ना होश है रात में,
खो गया है चाँद भी देखो बादल के आगोश में।

क्यों मेरी तरह रातों को रहता है परेशान,
ऐ चाँद बता किस से तेरी आँख लड़ी है।

With great pleasure, I share this two line shayari with all of you. I hope you find it interesting. I also encourage you to share the best two line shayari on social media with your friends.

Please inform us in the comments below if you find any not included on our list. Feel free to suggest anything.

We welcome your comments in the comment box. All the work you do is greatly appreciated.

Leave a Comment

Recently Posted